FAQ's Download
 
व्यक्तिगत सोच से सम्बंधित

व्यवसाय से सम्बंधित

व्यवसाय की सफलता से सम्बंधित सवाल

कानूनी स्थिती से सम्बंधित सवाल

कंपनी से सम्बंधित सवाल

Question : नेटवर्क मार्केटिंग क्या होती है ? यह एक गैरकानूनी काम है ?
Ans :

        आपकी शंका बिलकुल सही है | आज आमतौर पर और आम जनता के मन में यही विचारधारा बनी हुयी है की यह एक गैकानुनी काम है और वे इसे समझ नहीं पाते हैं | आईये इसे साधारण तरीके समझाने काप्रयास करते हैं |

        प्रत्येक कंपनी अपने बिजनेस को बढाने के लिए निरंतर नए नए प्रयोग करती रहती है और बिजनेस बढाने का सीधा सीधा अर्थ है अपनी सेल बढाना | इस संदर्भ में बिजनेस में अनेकों मॉडल आये जैसे फ्रेचाईजी एजेंसी डीलर ब्रोकर पार्टनर वगैरह वगैरह | हर बार कम्पनियों ने उन लोगों को अपने बिजनेस से जोड़ने का प्रयास किया जिनके पास निवेश के लिए कम पैसा था लेकिन बिजनेस करने के लिए ज्यादा योग्यता | कम्पनीयों का अंतिम उद्देश्य था की उनके उत्पाद अंतिम ग्राहक तक जा पायें और उनके प्रत्येक ग्राहक उनके उत्पाद को और ज्यादा प्रमोट कर कंपनी की सेल को बढायें | और इस प्रयास में सन 1930 में जन्म हुआ MLM का |

 

        MLM - Multi LevelMarketing एक ऐसी व्यवस्था है जिसमें ग्राहक को कम्पनी अपने लाभ का हिस्सेदार बनने का अवसर देती है और वो भी बिना किसी निवेश और प्रशिक्षण के | यह विचारधार सन 1930 में सबसे पहले अस्तित्व में आयी जब एक कंपनी के इस विचारधारा के साथ अपना काम शुरू किया | उस कम्पनी के मालिकों को इस विचारधारा के परिणामों का ज्ञान नहीं था की आम आदमी को जब उत्पाद लेने के साथ पैसा कमाने का अवसर मिल जाए तो वे क्या करंगें | आम लोगों ने अगले 5 साल में कंपनी का व्यवसाय इतना बढ़ा दिया की कंपनी की उत्पाद आपूर्ती सेवा उत्पाद की मांग को पूरा करने में असफल हो गयी | इसका परिणाम यह रहा की उस कंपनी को सेल की अधिकता के कारण बंद होना पडा | इस शक्ति को बिजनेस की दुनिया के दिग्गजों ने तुरंत पहचान लिया और उनकी देखा देखी बहुत से लोगों ने इस विचारधारा को अपना लिया | लेकिन साथ में कुछ गलत तत्व भी इस विचारधारा में आ गए जो हर क्षेत्र में होता है और उन्होंने उत्पाद की जगह सीधे पैसों का लेनदेन प्रारम्भ कर दिया | इस पैसों के लेनदेन को ही मनी रोटेशन के नाम से जाना गया और बाद में इसे कानूनन गलत करार दे दिया गया | इस पुरे घटनाक्रम में जो परिणाम सामने आये हम उसे समझने का प्रयास करते हैं :-

 

        MLM - Multi LevelMarketing – एक इंडस्ट्री बन चुकी है ठीक वैसी ही जैसे सोफ्टवेयर सीमेंट आयरन कपड़ा तेल वगैरह वगैरह इंडस्ट्री हैं, और इनमें अनेकों कंपनी काम करती हैं | इन कम्पनीयों को उनके कार्यशैली के आधार पर तीन भागों में बांटा जा सकता है |

 

                                   नेट्वर्किंग कंपनी – नेट्वर्किंग शब्द का जन्म कम्पूटर के साथ ही हुआ है | कम्पूटर में नेट्वर्किंग करने का अर्थ होता है अलग अलग कम्पूटर को तार या इन्टरनेट या वारलेस के माध्यम से आपस में जोड़ना | इसी तर्ज पर मनी रोटेशन कंपनी भी काम करती हैं | मतलब जैसे कम्पूटर की नेट्वर्किंग में यदि कोइ तार ना जुड़ा हो तो कम्पूटर काम नहीं करता उसी प्रकार नेट्वर्किंग कंपनी में जब तक आपके डाउन में सभी खाली जगह भर ना जाए आपको कमीशन नहीं मिलता है | दूसरा यह कम्पनियां आपके दिए हुए पैसों के बदले उतनी ही कीमत का सामान या सर्विस नहीं देती हैं या कोइ सामान या सर्विस ही नहीं देती हैं | इस कारण यह कम्पनियां मनी रोटेशन कंपनी बन जाती हैं अर्थात जहां कम कीमत के सामान को अधिक कीमत पर बेचना या किसी भी सामान या सर्विस को नहीं देना | इस कारण यह कम्पनियां गैरकानूनी बन जाती हैं | इन्हें पहचानने के लिए आप 2 सवालों के जवाब पर ध्यान दे सकते हैं पहला मैंने जो पैसे दिया उसके बदले मुझे क्या मिला और जो मिला उसका मूल्य उतना ही था या नहीं जितना मैंने पैसा दिया | दूसरा मेरे माध्यम से आने वाले व्यक्ति को उसके दिए पैसों के बदले क्या मिला ? क्योंकी कुछ कंपनी डेफर्ड पेमेंट के नाम भी मनी रोटेशन करती हैं | मतलब आप अभी थोड़ा पैसा देकर मेंमबर बन जाओ और जब आप बचा पैसा दोगे आपको उत्पाद मिल जाएगा तब तक आप लोगों को जोड़ो और पैसे कमाओ | ध्यान रखें ऐसी कंपनी पूर्णत: गैरकानूनी होती हैं |

            नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी – यह वे कंपनी हैं जो आपको आपके दिए गए पैसों के बदले उतनी ही कीमत का सामान देती हैं | यह कम्पनी 100% कानूनी होती हैं | ये कम्पनी वास्तव में पुरानी मार्केटिंग और वितरण प्रणाली को नए रूप में चला रही होती हैं | ये कम्पनी मूल रूप से मासिक आधार पर उपयोग होने वाले सामानों में बिजनेस करती हैं और इनका कमीशन कुल बिक्री मूल्य पर प्रतिशत में दिया जाता है जो आमतौर पर पुराने सिस्टम में भी होता है | इनके साथ बिजनेस करने के लिए आपको एक सेल्समैन की तरह ट्रेनिंग लेनी होती है और एक बेहतर सेल्समैन बनना होता है | इन कम्पनियों के साथ लाभ यह है की आप इनके साथ बिना निवेश बिजनेस शुरू कर पाते हैं और बाद में जब ज्यादा विक्रय करने लगते हैं तब कम्पनी आपको डिपो खोल कर दे देती है |

           रेफरल मार्केटिंग कंपनी – यह वे कंपनी हैं जो केवल आपके द्वारा रेफर करने पर कमीशनदेती हैं | इनके साथ आपको कभी डिपो खोलने या विक्रय पर आधारित कमीशन या मासिक आधार पर उपयोग में आने वाले प्रोडक्ट नहीं मिलते हैं | इनके प्रोडक्ट भी आपको उतनी ही कीमत के मिलते हैं जितना आप भुगतान करते हैं | इन कम्पनियों के साथ भी लाभ यह है की आप इनके साथ बिना निवेश बिजनेस शुरू कर पाते हैं | आप केवल उपभोक्ता की तरह इन कम्पनियों से जुड़ते हैं लेकिन आपके आगे रेफर करने से होने वाले विक्रय पर आप इन कम्पनियों के लाभ के भागीदार बन जाते हैं, इसलिए ये कम्पनी भी 100% लीगल होती हैं |

 
 
Question : हम तो ज्यादा लोगों को जानते नहीं हैं हम कैसे कर पायेंगें
Ans :
        आप बिलकुल सही कह रहे हैं की हम तो इतने लोगों को जानते नहीं है फिर इतना बडाबिजनेस हम कैसे करेंगें ? आप यह देखिये की इस बिजनेस में सारी सेल आपको नहीं करनीहोती है, आप तो इस बिजनेस को केवल शुरू करते हैं बाद में आपके माध्यम से आये हुएलोग इसे आगे बढ़ाते हैं | मतलब आप सभी कोजानाते हों यह जरुरी नहीं | इस बिजनेस कामूल मन्त्र है 50 x 50 मतलब आप अगर 50 लोगों को जानते हैं तो वो भी 50 – 50 लोगोंको जानते होंगें | अगर आपके माध्यम से यह बिजनेस 50 लोगों तक जाता है तो उन 50लोगों के माध्यम से यह बिजनेस 2500 लोगों तक चला जाएगा | जबकी आप तो केवल 50 लोगोंको ही जानते थे | यही इस बिजनेस की ताकत है | आज आपको जिसने प्लान दिखाया क्या आपदोनों एक दुसरे को जानते थे ?
buy viagra in the philippines read here how much viagra should i take
buy viagra near las vegas read here buy generic viagra cheap
website click information on abortion pill
 
 
Question : बिजनेस तो अछा है लेकिन हमारे पास समय नहीं है
Ans :        आपका कहना सही है, वर्तमान में हम परिवार के लिए और खुद के लिए आमदनी कमानेमें कहीं ना कहीं व्यस्त हैं जिसमें हमारा अधिकाँश समय निकल जाता है | लेकिन सोचनेकी बात यह है की हमारे परिवार को केवल हमारी आमदनी की जरुरत है या उन्हें हमारासमय भी चाहिए ? अगर आपको आमदनी भी लगे और उस आमदनी को एन्जॉय करने का समय भीमिलाने लगे तो कैसा रहेगा ? आम आदमी अपनी जिन्दगी के लगभग ३० वर्ष यही सोच करनिकाल देता है की पहले पैसा कमा ले फिर आराम से जिन्दगी के मजे लेगा | क्या वास्तवमें यह विचारधार सही होती है या हो पाती है ? जिन्दगी का मजा तो तब है जब पैसा भीआता रहे और उस पैसों का मजा भी आता रहे | आप इस बिजनेस को ध्यान से देखें तोपायेंगें की इस बिजनेस को आप सुरु अपने पार्ट टाईम में करते हैं जैसे शनिवाररविवार, फिर धीरे धीरे आपकी टीम बनाने लगती है और फिर आपकी टीम के साथ मिल कर जबकाम आगे बढता है तो काम की गाती टीम के आकार के अनुसार बदने लगती है और साथ साथआपका पैसा और उस पैसों को एन्जॉय करने के लिए समय भी उसी अनुपात में बढता चला जाताहै | जैसे मान लीजिये आज आप इस बिजनेस को पार्ट टाईम शुरू करते हैं और ६ माह मेंआपके साथ ५० लोग आ जाते हैं तो आगे ६ माह में जब आप और ये ५० लोग मिल कर पार्टटाईम में भी काम आगे बढायेंगे तो आप्ती टीम साईज हो जायेगी लगभग २५०० की और आप समयऔर पैसा दोनों हासिल कर लेंगें | साथ में यह भी सोचने और देखने की बात है कीशुरुवात में इस काम में आपको जिसने प्लान दिखाया है वो आपकी पुरी सहायता भी करताहै | जबकी आप वर्तमान में जो काम कर रहे हैं उसे आप जब तक भी करेंगें वो तब तक हीचलेगा और उसमें कोइ आपकी आगे बदने में मदद भी नहीं करता है | सोच कर देखिये क्या सहीहै और कितना सही है |


online read signs of infidelity
 
 
Question : कंपनी के उत्पाद बहुत महँगे हैं
Ans :

        आप सही कह रहे हैं जबहम इन उत्पादों के माध्यम से मिल रहे अवसर को नहीं देख समझ पाते हैं तो हमेंउत्पाद महँगे दिखने लगते हैं | लेकिन कोइ उत्पाद महँगा है या सस्ता यह कैसेनिर्धारित किया जा सकता है ? जैसे मान लीजिये आपको सरदर्द नहीं कर रहा है उस समयअगर मैं आपको सरदर्द की टेबलेट बेचूं तो आपको उस समय वह टेबलेट १ में भी महँगीलगेगी क्योंकी आपको उसकी जरुरत नहीं है | लेकिन अगर आपके सर में बहुत तेज दर्द होरहा हो तो आप उसी टेबलेट को १०० में भी खरीद लेंगें | इसे कहते हैं उत्पाद कीजरुरत की कीमत जो गैरकानूनी हैं | प्रत्येक उत्पाद पर उसका निर्माता अधिकतम खुदरामूल्य प्रिंट करके देता है और वही उस उत्पाद की कीमत होती है | लेकिन उसकी जरुरतउसके आंतरिक मूल्य को बदलता रहता है | इसी प्रकार जो उत्पाद आपको दिखाए गए वे नातो महँगे हैं और ना सस्ते वो निर्माता द्वारा निर्धारित कीमत के हैं, लेकिन इसकेसाथ मिलने वाला बिजनेस यदि आपको उसकी जरुरत है और आपको समझ आ गया तो हर उत्पाद इस बिजनेसका मुफ्त का है, क्योंकी जैसे ही ९ लोगों को डायरेक्ट रेफर करते हैं आप १३५०० कमालेते हैं जो किसी उत्पाद की कीमत से ज्यादा या समतुल्य है | एक बात और सोच करदेखिये सस्ता या महँगा केवल हमारी आर्थिक स्थिती से निर्धारित होता है अन्यथा तोहम केवल उपयोगी है या नहीं यही देखते हैं |


buy viagra near las vegas read here buy generic viagra cheap
 
 
Question : कंपनी पैसे क्यों दे रही है / कम्पनी पैसे कैसे बांटती है ?
Ans :

        आपको यह ज्ञात होगा की बाज़ार से हम जो सामान खरीदते हैं उसकी मूल कीमत जिसे फैक्ट्री लागत कहा जाता है वो केवल 30% होती है | मतलब अगर किसी सामान का बाज़ार मूल्य 100 है उसमें से फैक्ट्री लागत 30 होगी और बचा 70 उस उत्पाद के मार्केटिंग डिस्ट्रीब्यूशन और रिटेलर में खर्च होता है | हमारी कंपनी जिन उत्पादों को प्रमोट करती है उन उत्पादों को सीधे निर्माता कंपनी से फैक्ट्री लागत (मतलब 30) में खरीदती है औरग्राहक को बाज़ार मूल्य 100 में देती है और 70 जो पहले मार्केटिंग डिस्ट्रीब्यूशन रिटेलर में बंटता था उसमें से 10 खुद रखती है और 60 नेटवर्क में बांटती है | निर्माता कंपनी से इस प्रकार के लेनदेन का प्रमाणपत्र भी कम्पनी के पास है जिसे आप देख सकते हैं |

नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर आप बायनरी इनकम प्लान कैसे काम करता है उसका केलकुलेशन भी समझ सकते हैं :-

-------------------------------------------------


http://f5sys.com/binary+plan+calculator.php


-------------------------------------------------

go read how to get viagra in philippines
read here go abortion procedures
website redirect information on abortion pill
 
 
Question : मेरे पास पैसा नहीं है
Ans :

                आपका कहना सही है,हमने आज तक किसी से भी यह नहीं सूना की उसके पास पर्याप्त पैसा है, यहाँ तक कीअनिल अम्बानी टाटा बिडला और यहाँ तक की हमारी सरकार भी यही कहती है की हमारे पासपैसे नहीं है | क्योंकी हमारे पास वास्तव में ऐसी चीजों और काम के लिए पैसे नहींहोते हैं जो हमें या तो समझ नहीं आते या हमें पसंद नहीं आते | क्योंकी अगर ऐसानहीं है और वास्तव में आपके पास पैसा नहीं है तो सोच कर देखिये जिस काम को करतेहुए आज आपकी यह हालत है उस काम को आगे भी करते रहेंगें तो क्या हालत और हालातबदलेंगें ? मुझे लगता है आपको रास्ता बदलने की जरुरत है | अगर यह सच है की वास्तवमें आपके पैसा नहीं है तो आपको इस बिजनेस की तुरंत आवश्यकता है ताकी आप जल्द सेजल्द पैसे कमा सकें | अगर वास्तव में इस समस्या से निजात पाना चाहते हैं तो आज हीइस बिजनेस पर ध्यान दें और समझें की कैसे आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं औरकैसे जल्द जल्द से पैसों की कमी से आजादी पा सकते हैं | आप चाहें तो इस बिजनेस कोकिसी लोन लेकर भी शुरू कर सकते हैं और केवल ९ डायरेक्ट सेल कर १३५०० कमा कर लोनचुका कर इस बिजनेस को परमानेंट ले सकते हैं | सोच कर देखिये हमारे जीवन में दुःखतकलीफ बीमारी दुर्घटना नौकरी की छटनी इनमें से कोइ भी चीज हमाई इजाजत से हमारेजीवन में नहीं आती, केवल अवसर ही है जो तब तक आपके जीवन में नहीं आ सकता जब तक आपउसे आने की अनुमती ना दें | जितना दिमाग हम अवसर को गलत साबित करने में और खुद कोगरीब बनाए रखने में प्रयोग करते हैं उसका १% भी अगर हम अवसर का लाभ उठाने में खर्चकर दें तो हम अमीर बन सकते हैं |

love affairs with married men why do husbands have affairs find an affair
 
 
Question : मेरे पास तो सारे उत्पाद हैं मुझे आपके उत्पाद की आवश्यकता नहीं है
Ans :

        आपका कहना बिलकुलसही है, आपके सारे उत्पाद हैं यह एक बहुत खुबसूरत बात है, लेकिन एक बात सोचिये कीयह सारे उत्पाद खासतौर पर इतनी आय कमाने का अवसर भला कितने लोगों के पास होगा |अगर आज आप इस अवसर को देख लेते हैं तो आप उनलोगों तक इन उत्पादों और इस अवसर कोपहुंचाने का माध्यम बन जायेंगे जो अंतत: आपको भी एक खुबसूरत और स्थायी आय कामाध्यम बन सकता है | सोच कर देखिये क्या आपको इस बिजनेस की आवश्यकता है ? आप सारीउम्र ये उत्पाद खरीदते रहेंगे लेकिन ऐसा बिजनेस आपको केवल यहीं से साथ में उपहार केरूप में मिलता है, आप चाहें तो उत्पाद के माध्यम से यह बिजनेस ले सकते हैं |

signs of infidelity cheats read
click here i want an affair why most women cheat
online read signs of infidelity
 
 
Question : आप लोग तो बस पैसा पैसा करते हैं, मैं पैसों के पीछे नहीं भागता |
Ans :

आपका कहना सही लगता है औरआमतौर पर हमारी सोच भी यही होती है की पैसा बुराई की जड़ है | लेकिन यदि संभव हो इनबातों पर भी सोच कर देखिये

  1. यह सही है की पैसोंसे खुशियाँ नहीं खरीदी जा सकती, लेकिन दुःख कम किये जा सकते हैं

  2. जो यह कहता है कीउसे पैसों की जरुरत नहीं है वो व्यक्ति शायद बिना पैसों के कभी रहा नहीं है

  3. हो सकता है आपकोवास्तव में पैसों की जरुरत ना हो लेकिन आपके पैसों की जरुरत और भी बहुत से लोगोंको हो सकती है जैसे माता पिता पत्नी बच्चे भाई बहन दोस्त रिश्तेदार समाजसेवीसंस्था मंदिर वगैरह वगैरह (कहीं हम केवल अपने बारे में सोच कर स्वार्थी तो नहीं होरहे)

  4. आपकी 99% समस्याओं का हल पैसा है और बची १% समस्याओं का कोइ हल नहीं है

  5. मंहगी कार में बैठ कर रोना सायकल पर बैठ कर रोने से ज्यादा अच्छा है

  6. पैसा अपनी जरुरत का जब एहसास कराता है तब अक्सर हम लाचार हो जाते है – जैसेगंभीर बीमारी, घर के कमाने वाले की आय बंद हो जाना, दुर्घटना, शारीरिक विकलांगता –जब हम ठीक ठाक होते हैं तभी हम पैसों पर ध्यान नहीं दे पाते हैं

how women cheat read here read here
black women white men click women who like to cheat
website abortion clinics information on abortion pill
 
 
Question : इस तरह चैन सिस्टम या स्कीम में आख़री आदमी घाटे में रहता है |
Ans :

        आपका कहना सही लगता है,पहली नजर में यही लगता है की आख़िरी आदमी को घाटा हो जाएगा | लेकिन सोच कर देखिये१. आख़िरी आदमी जैसा कोइ शब्द वास्तव में है क्या ? केवल इंडिया में प्रति मिनट५००० बच्चे पैदा होते हैं २. यदि हर आदमी को उसके दिए गए पैसों के बदले उतनी कीमतका सामान मिल जाता है तो उसे घाटा किस बात को हो सकता है ? क्योंकी आख़िरी आदमीअधिक से अधिक उपभोक्ता बन सकता है घाटे में तो रह ही नहीं सकता |

how women cheat read here read here
 
 
Question : कंपनी बंद हो गयी / भाग गयी तो ?
Ans :

        आपका सोचना बिलकुल सही है,आखिर हम सभी का पैसा हमारे लिए महत्वपूर्ण है और हम बिना  समुचित विश्वाश के पैसे कैसे दे सकते हैं ?आईये इस विषय को समझने की कोशिश करते हैं की आखिर यह कंपनी बंद / भाग क्यों नहींसकती :-

 

किसी भी कंपनी के बंद होनेके तीन कारण होते हैं

१.     वित्त सम्बन्धी २. कानूनसम्बन्धी ३. उत्पाद संबंधी

        यदि हम इस कंपनी की वित्तीयस्थिती पर नजर डालें तो पायेंगें की सिक्योर लाईफ में क्योंकी पैसा लेने के बादसामान दिया जाता है और सामान सीधे कुरियर के माध्यम से आता है तो तो हम पाते हैंकी कंपनी की आय के मुकाबले उसके खर्च बहुत ही कम है जो कभी भी वित्तीय संकट पैदानहीं कर सकते हैं |

 

        यदि हम कानून संबंधी स्थितीपर नजर डालें तो आपको सिक्योर्लाईफ़ के समस्त कानूनी प्रमाणपत्र आपके शंका निवारणहेतु उपलब्ध हैं जिसमें जस्टिस ए. एस. आनंद की लीगल ओपिनियन भी शामिल है जिसमें इसकम्पनी के कार्य को कानून सम्मत बताया गया है |

 

        यदि हम उत्पाद सम्बंधितस्थिती पर नजर डालें तो हम पायेंगें की सिक्योर लाईफ का खुद का कोइ प्रोडक्ट है हीनहीं | सिक्योर लाईफ तो पहले से ही स्थापित कंपनीयों की मार्केटिंग डिस्ट्रीब्यूशनऔर सेल की ओनलाईन होल सेल पार्टनर है | मतलब सिक्योर लाईफ जो काम कर रही है“मार्केटिंग एवं डिस्ट्रीब्यूशन” यह काम कभी भी बंद नहीं हो सकता है, और यदि कोइउत्पाद बंद हो भी गया तो सिक्योर लाईफ नयी कंपनी या नए उत्पाद या नयी कम्पनी के नएउत्पाद से सम्बन्ध जोड़ कर अपना व्यवसाय जारी रखेगी |

        एक बात और की कंपनी आपसेजितना पैसा लेती है उतनी कीमत का सामान आपको दे देती है, ऐसे में कंपनी भाग कर आपसेक्या ले जायेगी ? और अगर उसे भाग कर कुछ मिलने वाला नहीं है तो भाग कर क्या करेगी?

        आख़िरी बात जिस कंपनी कोप्रत्येक सेल पर जो उसे उसके एसोसियेट करके देते हैं, मुनाफ़ा होता है, तो क्योंसिक्योर्लाईफ़ अपना कानूनी और निरंतर आने वाला मुनाफ़ा बंद कर भागेगी ?

buy viagra in the philippines read here how much viagra should i take
how women cheat redirect read here
black women white men open women who like to cheat
redirect go redirect
 
 
Question : ये नेटवर्क मार्केटिंग क्या है और इसके क्या फायदे हैं ?
Ans :




 
 
Question : मै इस व्यवसाय को क्यों करू ?
Ans :एक बार वीडियो को देखें और समझने का प्रयास करें |
go go how to get viagra in philippines
reasons why married men cheat open click here


 
 
Question : आपकी कंपनी के पार्टनरशिप के क्या साबुत हैं
Ans :

सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिककरें :-

http://earnwhilelearn.com/legal_corner.aspx?legal_type=Legal%20Documents
buy viagra in the philippines read here how much viagra should i take
go read how to get viagra in philippines
women affairs beautiful women cheat women who cheated
signs of infidelity cheats read
 
 
Question : आपकी कंपनी के कानूनी होने का क्या साबुत है
Ans :

सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिककरें :-


Registration No - U52390DL2001PTC109313


http://www.mca.gov.in/mcafoportal/viewCompanyMasterData.do


https://www.zaubacorp.com/company/SAFE-AND-SECURE-ONLINE-MARKETING-PRIVATELIMITED/U52390DL2001PTC109313


http://earnwhilelearn.com/legal_corner.aspx?legal_type=Legal%20Documents
married looking to cheat my husband cheated on me wife affair
read here wife cheated website
read here read here abortion procedures
 
 
Question : ये EWL क्या है
Ans :सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें :-

http://earnwhilelearn.com/about_us.aspx?page_nm=About%20EWL
 
 
Question : कंपनी के डायरेक्टर कौन कौन हैं
Ans :

सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिककरें :-


https://www.zaubacorp.com/company/SAFE-AND-SECURE-ONLINE-MARKETING-PRIVATELIMITED/U52390DL2001PTC109313


married looking to cheat my husband cheated on me wife affair
website abortion clinics information on abortion pill
 
 
Question : कंपनी कब से काम कर रही है और इसका ऑफिस कहाँ है ?
Ans :

सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिककरें :-


https://www.zaubacorp.com/company/SAFE-AND-SECURE-ONLINE-MARKETING-PRIVATELIMITED/U52390DL2001PTC109313
black women white men click women who like to cheat
read here go abortion procedures


 
 
 
Website Free Tracking
 
Google Ads